Essay in Hindi: How to Write Essay In Hindi

हिन्दी निबंध – Essay in Hindi:

essay in hindiजैसा कि हम जानते हैं कि बहुत से लोग यह जानना चाहते हैं कि हिंदी में निबंध कैसे लिखा जाए | यहां पर हम कोशिश कर रहे हैं कि किसी भी विषय में निबंध कैसे लिखा जाए | यदि आप किसी स्कूल और कॉलेज में पढ़ते हैं और यह जानना चाहते हैं कि किसी भी विषय पर एक अच्छा निबंध तो फिर आप सही जगह पर हैं | यहां पर हम आपको बताएंगे कि किसी भी विषय पर कैसे निबंध लिखा जाता है साथ ही साथ हम आपको यहां पर बताएंगे कि निबंध कितने प्रकार से लिखे जाते हैं | इसके अलावा हम आपको बहुत सारे निबंध जोकि विभिन्न विषयों में, आसान और सरल भाषा में लिखे गए हैं | इन विभिन्न प्रकार के विषयों पर आधारित निबंध आप सभी को निबंध प्रतियोगिता में अवश्य ही मदद करेगी |

1. त्योहारों पर निबंध (Essay On Festivals In Hindi):

2. अभियानों पर निबंध (Essay On Campaigns In Hindi):
Swachh Bharat Abhiyan Essay in Hindi
Women Empowerment Essay in Hindi
3. दिवसों पर निबंध (Essay On Days In Hindi):
Republic Day Speech in Hindi and English

4. खेल संबंधी निबंध (Essay On Sports In Hindi):

5. विज्ञान पर निबंध (Essay On Science In Hindi):

6. विद्यालय और शिक्षा पर निबंध (Essay on school and education In Hindi):

7. राजनीति और शासन से संबंधित निबंध (Essay on Politics and Governance In Hindi):

8. प्रदूषणों पर निबन्ध (Essay on pollution In Hindi):

9. जानवरों पर निबंध (Essay On Animals In Hindi):

हिंदी में निबंध (Essay In Hindi): एक निबंध आमतौर पर लेखक के परिपेक्ष रेखांकित करने वाले एक छोटा भाग होता है | इसे अक्सर कहानी या लेख का पर्याय माना जाता है | निबंध औपचारिक और अनौपचारिक दोनों तरह से लिखे जा सकते हैं | साधारण रूप से औपचारिक निबंध अकादमी तथा गंभीर विषयों पर आधारित होते हैं, जबकि अनौपचारिक निबंध व्यक्तिगत और हास्य तत्वों पर आधारित होते हैं |

निबंध के प्रकार: निबंध का प्रकार पूर्ण रूप से लिखने वाले पर निर्भर करता है | बड़े पैमाने पर हमसे चार बड़ी भागों में बांट सकते हैं इस प्रकार से है |

कथा निबंध (Narrative Essay) : कथा निबंध को हम इस प्रकार से समझ सकते हैं की जब लेखक निबंध के माध्यम से कहानी या घटना को दर्शाता है | कथा निबंध लिखते समय लेखक का प्रमुख उद्देश्य यह होता है कि वह पाठक को उसमें शामिल कर सके जैसे कि वह वहीं थे जब यह पूरी घटना घटित हो रही थी | दूसरे शब्दों में हम यह कह सकते हैं कि उस घटना को यथासंभव ज्वलंत और वास्तविक बना सके |

वर्णनात्मक निबंध (Descriptive Essay) : वर्णनात्मक निबंध में एक जगह, एक वस्तु, एक घटना, अथवा एक स्थिति का वर्णन करेगा लेकिन यह स्पष्ट रूप से चीजों का वर्णन नहीं है | वर्णनात्मक निबंध में लेखक को चित्र चित्रित करना होता है ऐसा करने से एक अच्छा लेखक अपनी और आकर्षित कर सकता है | जब एक अच्छा लेखक वर्णनात्मक निबंध को अच्छी तरह से लिखता है तो पाठक उनकी सभी भावनाओं को महसूस करता है |

व्याख्यात्मक निबंध (Expository Essay) : इस प्रकार के निबंध में लेखक किसी भी विषय को एक संतुलित रूप में प्रस्तुत करता है | इस तरह की निबंध को लिखने के लिए लेखक के पास विषय के बारे में व्यापक और वास्तविक ज्ञान होना चाहिए | इस प्रकार के निबंध में लेखक की भावनाओं के लिए कोई गुंजाइश नहीं होती क्योंकि इस तरह के निबंध पूरी तरह तथ्यों, आंकड़ों और उदाहरण पर आधारित होते हैं |

प्रेरक निबंध (Persuasive Essay) : प्रेरक निबंध लेखक यह कोशिश करता है कि वह अपने तक के माध्यम से अपने पक्ष में ला सके | प्रेरक निबंध में लेखक केवल तथ्यों की प्रस्तुति ही नहीं करता बल्कि लेखक अपना दृष्टिकोण को पाठक को समझाने का भी प्रयास करता है | इस प्रकार की निबंध में तर्क के दोनों पक्षों को पूर्ण रूप से प्रस्तुत करना होता है | लेकिन अंत में कातक अधिक बार बहन करता है यह भी इस प्रकार के निबंध में लेखक को समझाना होता है |

हिंदी में निबंध लिखने का तरीका : निबंध इतनी का कोई प्रारूप नहीं है यह एक रचनात्मक प्रक्रिया है इसलिए इसी सीमाओं के भीतर हम सीमित नहीं कर सकते यद्यपि कुछ बुनियादी बातों का ध्यान दिशा में रखना चाहिए | तो आइए एक निबंध की सामान्य संरचना पर नजर डालें कि कोई भी निबंध हम किस प्रकार से लिख सकते हैं |

परिचय (Introduction) : जब कभी भी हम निबंध को लिखना शुरू करते हैं तू सर्वप्रथम हम उस विषय के बारे में थोड़ा सा परिचय लिखते हैं कि हम किस विषय पर लिख रहे हैं | दूसरे शब्दों में हम कह सकते हैं कि परिचय वाले पाठ में ही लेखक पहली बार विषय का परिचय देता है | आमतौर पर परिचय वाला भाग बहुत ज्यादा लंबा नहीं होता है | निबंध की शुरुआत में रचनात्मकता और पाठक का ध्यान आकर्षित करने के लिए हिरन का परिचय भाग बहुत ही महत्वपूर्ण होता है | कभी-कभी लेखक अपनी पाठक के साथ जोड़ने के लिए सारी बना सकता है जैसे कि उदाहरण अथवा कहावत के साथ परिचय देना |

मुख्य भाग (Body) : निबंध के इस भाग में सबसे महत्वपूर्ण बातें लिखी जाती है | यह भाग 1 पैराग्राफ तक सीमित नहीं होता | यहां दो या दो से अधिक पैराग्राफ तक विस्तृत रूप में हो सकता है | आमतौर पर लेखक इस भाग में बहुत सारी जानकारी प्रदान कर सकता है | मुख्य भाग में लेखक को अपने विचारों और सामग्री को विस्तृत और व्यवस्थित रूप में प्रस्तुत करना एक महत्वपूर्ण काम है |

निष्कर्ष (Conclusion) : निष्कर्ष निबंध का अंतिम भाग होता है | निबंध में लिखी गई पूरी बातों को समझने के लिए निष्कर्ष निबंध का एक महत्वपूर्ण भाग है | लेखक को यह सुनिश्चित करना होता है कि अंत में वह निष्कर्ष के साथ अपनी निबंध को पूरा करें और निबंध को अधूरा ना छोड़े |

निबंध लिखने के लिए टिप्स: अगर आप किसी भी विषय पर निबंध लिखना चाहते हैं तो आपको कुछ उपयुक्त ध्यान रखना बहुत ही आवश्यक है | जब भी आप किसी विषय पर निबंध लिखना शुरू करें तो आपको उस विषय के बारे में विस्तृत जानकारी होनी चाहिए | यहां पर हम आपको कुछ महत्वपूर्ण बातें बता रहे हैं जो कि आपको निबंध लिखने में अवश्य ही मदद करेंगे |

  • सर्वप्रथम निबंध लिखने के लिए आप अपने निबंध को एक उपयुक्त शीर्षक दें ताकि पाठक का ध्यान अपनी निबंध की ओर आकर्षित कर सके |
  • उपयुक्त शीर्षक देने के बाद लेखक को पाठक की जिज्ञासा शांत करने के लिए कम से कम 300 से 500 शब्दों मे सही जानकारी प्रस्तुत कर सके | 300 से 500 शब्द किसी भी निबंध को एक आदर्श निबंध बनाने के लिए सही शब्दों की संख्या है | कोई भी लेखक इन शब्दों को के अनुसार घटा और बड़ा भी सकता है |
  • निबंध की भाषा को सरल और जानकारी युक्त रखना लेखक का एक बहुत ही महत्वपूर्ण उद्देश्य होना चाहिए | लेखक को हमेशा यह ध्यान रखना चाहिए कि वह कम से कम कठिन शब्दों और वाक्यों का प्रयोग करें ताकि पाठक को समझने में आसानी हो सके |
  • निबंध को लिखते समय व्याकरण पर विशेष ध्यान दें और सही जगह पर सही विराम चिन्हों का उपयोग करें | यदि लेखक के द्वारा ऐसा नहीं किया जाता है तो यहां पाठक को सामग्री से विचलित कर देगा |
  • सर्वप्रथम निबंध को अपने विचारों को सुव्यवस्थित करें और एक खाका तैयार करें ताकि लेखक यह सुनिश्चित कर सके और एक धारा प्रभाव में लेखक अपनी निबंध रचना कर सके |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *